Magazine

Current Issue

FURNITURE DESIGN

TATAMI ReFAB PROJECT Merges Japanese Tra...

MACHINERY & TECHNOLOGY

EconitWood Transforms Sawdust into Innov...

पेपरफ्राई के को-फाउंडर अम्बरीश मूर्ती का निधन, फर्नीचर इंडस्ट्री में शोक की लहर

FDT Bureau

Pepperfry co-founder Ambrish Murty dies due to cardiac arrest

पेपरफ्राई के को-फाउंडर और CEO, अंबरीश मूर्ति का सोमवार को हिमालयी शहर लेह में अचानक हृदय गति रुकने से निधन हो गया, वो 51 वर्ष के थे। फर्नीचर इंडस्ट्री में एक छोटे से स्टार्टअप के जरिये अपनी एक अलग पहचान बनाने वाले अम्बरीश मूर्ति एक प्रमुख आर्किटेक्ट भी थे। अचानक हुए उनके निधन से फर्नीचर इंडस्ट्री स्तब्ध है। 

अम्बरीश मूर्ति के असमय हुए निधन की पुष्टि उनके करीब दोस्त और पेपरफ्राई के पार्टनर आशीष शाह ने अपने ट्विटर के माध्यम से की। आशीष ने जानकारी देते हुए लिखा कि “मेरे दोस्त, गुरु, भाई और आत्मीय अम्बरीश मूर्ति अब हमारे बीच नहीं रहे | मुझे आपको बताते हुए दुःख हो रहा है कि सोमवार की रात लेह में दिल का दौरा पड़ने की वजह से उनका निधन हो गया। उनके आत्मा की शांति के लिए आप सभी प्रार्थना करें।” 

आपको बताते चले कि निधन से दो दिन पहले मनाली-लेह हाईवे पर अंबरीश ने एक विडियो बनाई थी जिसे अपने इंस्टाग्राम पेज पर पोस्ट किया था, उन्होंने पहले रोड की तारीफ करते हुए कहा था कि अगर भगवान ने कभी बाइकर्स के लिए स्वर्ग बनाया, तो स्वर्ग की सभी सड़कें इस तरह दिखेंगी। फ्लैट, ब्लैक टरमैक। यह मनाली-लेह हाईवे के बीच मूर प्लेन है। मूर प्लेन यानी घास और पहाड़ियों का एक खुला क्षेत्र। इन मूर प्लेन्स के बीच में, भगवान एंजल्स को पार्टी करने के ऑप्शन देंगे। एंजेलिक बाइकर्स ने पार्टियां मनाईं, पिकनिक मनाईं। मैंने आज एक एंजल बनने की कोशिश की, लेकिन भगवान की मेरे लिए कुछ और ही योजना थी। 

इसके बाद मूर्ति ने कहा कि मनाली-लेह हाईवे पर सवारी करते समय, मुझे गियर संबंधी समस्याएँ होने लगीं। इसलिए मैं अपनी बाइक में तीसरे, चौथे और पांचवें गियर नहीं लगा पा रहा था, जिससे मैं केवल गियर 1 और 2 पर ही गाड़ी चला रहा था। मैंने इन-द-आर्ट-मोटरसाइकिल मोड सेट किया फिर भी कुछ नहीं हुआ। लेकिन फिर मैंने वही किया जो आइंस्टाइन करते। मैंने एक बड़ा पत्थर उठाया और उससे गियर पेडल पर मारा। और उसके बाद सब कुछ ठीक हो गया. 10 सितंबर 1971 को जन्में अम्बरीश मूर्ति को बाइकिंग और ट्रैकिंग पसंद थी। 

  • साल 1990-1994 में दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी से सिविल इंजीनियरिंग करने के बाद मूर्ति साल 1994-1996 में IIM कलकत्ता से MBA पूरा किया।
  • MBA करने के बाद उन्होंने कैडबरी में मैनेजमेंट ट्रेनी के तौर पर ज्वाइन किया, हांलकि कुछ समय बाद कंपनी ने उन्हें एरिया सेल्स मैनेजर बनाकर केरल भेज दिया। मगर 5 साल बाद उन्होंने कैडबरी छोड़ दी।
  • साल 2003 में उन्होंने एक फाइनेंशियल ट्रेनिंग एंटरप्राइज, ओरिजिन रिसोर्स शुरू करने के लिए नौकरी छोड़ दी। मगर साल 2005 में ब्रिटानिया में मार्केटिंग मैनेजर के तौर पर कॉर्पोरेट वर्ल्ड में उन्होंने वापसी की।
  • करीब 7 महीने बाद ही वह ईबे इंडिया में चले गए और दो साल के भीतर वह भारत, फिलीपींस और मलेशिया के कंट्री हेड बना दिए गए। 
  • साल 2011 में मूर्ति ने आशीष शाह के साथ होम डेकोर और फर्नीचर के लिए ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पेपरफ्राई की शुरुआत की। साल 2013 में, जब उन्हें लगा कि फर्नीचर-होम डेकोर बिजनेस में उनकी पकड़ अच्छी है तो इसी पर फोकस किया।
RELATED TAGS

GET WEEKLY NEWSLETTER

ABOUT FURNITURE DESIGN & TECHNOLOGY

Furniture Design India and the magazine FURNITURE DESIGN & TECHNOLOGY (FDT magazine) are from the trusted 22-year-old media house of SURFACES REPORTER and PLY REPORTER.

FDT is a B2B monthly bilingual magazine from India that shares the pulse of the furniture business in India and connects the manufacturers, OEMS, product designers, architects, showrooms, designers and dealers.

Read More
;

© 2023 Furniture Design and Technologies.. All Rights Reserved. Developed by eyeQ Advertising